Breaking News
मुख्यमंत्री धामी ने आगामी मानसून की तैयारियों की बैठक में अधिकारियों को दिये निर्देश
18 जून को वाराणसी में किसान सम्मेलन को संबोधित करेंगे प्रधानमंत्री मोदी
श्री महंत इन्दिरेश नेत्र बैंक बना उत्तराखण्ड का पहला ट्रेनिंग सेंटर
मोदी कैबिनेट 3.0 में सूचना-प्रसारण मंत्री बने अश्विनी वैष्णव ने संभाला पदभार
राज्यपाल ने ‘राजभवन मैत्री चैटबॉट’ का किया लोकार्पण
सीएम धामी ने नई दिल्ली में निर्माणाधीन ‘उत्तराखण्ड निवास’ का किया निरीक्षण
फूड सेफ्टी कनेक्ट एप पर करें मिलावटखोरी से जुड़ी शिकायत
विभिन्न पदों पर पुलिस भर्ती परीक्षा के फिजिकल टेस्ट की डेट आगे खिसकी
आईएमए से पासआउट होकर 355 युवा भारतीय सेना में बने अफसर

जनवरी 2024 में कई बैंकों ने महंगे किए लोन, यहां जानें लेटेस्ट रेट्स

देहरादून। जनवरी 2024 में, कुछ बैंकों ने अपनी मार्जिनल कॉस्ट आधारित उधारी दरों (MCLR) को रिवाइज किया है। जिनमें IDBI बैंक, बैंक ऑफ बड़ौदा, ICICI बैंक, केनरा बैंक, पंजाब नेशनल बैंक (PNB), बैंक ऑफ इंडिया और HDFC बैंकों के नाम शामिल हैं।

बैंकों के लेटेस्ट रेट्स: 
ICICI बैंक की वेबसाइट के मुताबिक, बैंक ने 1 जनवरी, 2024 से अपने MCLR में 10 bps की बढ़ोतरी की है। ओवरनाइट रेट 8.5% से 8.6% है। एक महीने के लिए MCLR आधारित लोन रेट 8.5% से बढ़कर 8.6% हो गई है। तीन महीने की दर 8.55% से बढ़कर 8.65% हो गई है। छह महीने की दर 8.90% से 9% है। एक साल की दर 9% से बढ़कर 9.10% हो गई है।

PNB बैंक ने 1 जनवरी, 2024 से अपने MCLR में 5 आधार अंक की बढ़ोतरी की है। ओवरनाइट रेट 8.2% से 8.25% है। एक महीने के लिए MCLR आधारित लोन दर 8.25% से बढ़कर 8.30% हो गई है। तीन महीने की दर 8.35% से बढ़कर 8.40% हो गई है। छह महीने की दर 8.55% से बढ़कर 8.60% हो गई है। एक साल की दर 8.65% से बढ़कर 8.70% हो गई है।

YES बैंक की नई दरें 1 जनवरी 2024 से प्रभावी हैं। ओवरनाइट रेट 9.2% है। एक महीने के लिए MCLR आधारित लोन दर 9.45% है। तीन महीने की दर 10% है। छह महीने की दर 10.25% है। एक साल की दर 10.50% है।

बैंक ऑफ इंडिया ने ओवरनाइट अवधि में 5 bps की बढ़ोतरी की है और यह 1 जनवरी, 2024 से प्रभावी है। ओवरनाइट दर 7.95% से 8% है। एक महीने के लिए MCLR आधारित लोन रेट 8.25% है. तीन महीने की रेट 40% है। छह महीने की रेट 8.60% है। एक साल की रेट 8.80% है।

बैंक ऑफ बड़ौदा (BoB) ने 12 जनवरी, 2023 से अपने MCLR को संशोधित किया है। ओवरनाइट MCLR 8% से बढ़कर 8.5% हो गई है।एक महीने की MCLR 8.3% पर स्थिर है। तीन महीने की MCLR 8.4% पर स्थिर है। छह महीने की MCLR को 5 bps बढ़ाकर 8.55% से 8.60% कर दिया गया है। एक साल की MCLR 8.75% से बढ़कर 8.80% हो गई है।

केनरा बैंक ने जनवरी 2023 से विभिन्न अवधियों के लिए अपनी उधार की सीमांत लागत (MCLR) आधारित उधार दरों में 5 आधार अंकों की बढ़ोतरी की है। ओवरनाइट दर 8% से 8.05% है। एक महीने की दर 8.1% से बढ़कर 8.15% हो गई है। तीन महीने की दर 8.20% से बढ़कर 8.25% हो गई है. छह महीने की दर 8.55% से बढ़कर 8.60% हो गई है। एक साल की दर 8.75% से बढ़कर 8.80 हो गई है। दो साल की दर बढ़कर 9.10% हो गई। तीन साल की दर 9.20% है।

HDFC बैंक का MCLR 8.80 फीसदी से 9.30 फीसदी के बीच है। ओवरनाइट MCLR को 8.80 फीसदी से 10 bps बढ़ाकर 8.70 फीसदी कर दिया गया है। HDFC बैंक का एक महीने का MCLR 5 bps बढ़कर 8.75 फीसदी से 8.80 फीसदी हो गया है। तीन महीने की MCLR 8.95 फीसदी से बढ़ाकर 9 फीसदी की जाएगी। छह महीने की MCLR को बढ़ाकर 9.20 कर दिया गया है। एक साल की MCLR, जो कई उपभोक्ता लोनों से जुड़ी है, को 5 bps से बढ़ाकर 9.25 प्रतिशत कर दिया गया है। 3-वर्षीय MCLR को 9.30 प्रतिशत पर अपरिवर्तित रखा गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top