Tuesday, September 27, 2022
Home उत्तराखंड UPCL वसूल रहा है एक ही उपभोक्ता से दो अलग-अलग नामों के...

UPCL वसूल रहा है एक ही उपभोक्ता से दो अलग-अलग नामों के बिल ,मामला हुआ दर्ज

◆ दशोली के लासी, मजोठी, सेमडुंगरा, हरमनी रांगतोली ग्राम सभाओं के बीच सामूहिक शिविर का आयोजन ।
◆ ग्रामीणों सीजीआरएफ (CGRF) के समक्ष दर्ज कराए 25 मामले ।
उपभोक्ता की हितों की नहीं होती है अनदेखी, मामलों की शत प्रतिशत होती है सुनवाई – मैठाणी

चमोली, 28 फरवरी 2021, जनपद चमोली की दशोली प्रखण्ड के बारह गांव फर्स्वाण फाट के ग्रामीण उपभोक्ताओं के लिए ग्राम सभा लासी के लस्यारी में आज विद्युत उपभोक्ता शिकायत निवारण का शिविर लगाया गया ।

उपभोक्ताओं को जागरूक करने के उद्देश्य से एक दिवसीय शिविर का आयोजन ग्राम सभा के पंचायत भवन परिसर में किया गया । जिसमें आसपास के सभी ग्रामसभाओं ग्राम प्रधानों के अलावा भारी संख्या में ग्रामीणों ने भी प्रतिभाग किया ।

शिविर में विद्युत उपभोक्ता शिकायत निवारण फोरम के सदस्य शशि भूषण मैठाणी अपने स्टाफ सहित मौजूद रहे ।
संगोष्ठी में मौजूद लासी, मजोठी, सेमडुंगरा, रांगतोली, लस्यारी, हरमनी के ग्रामीण उपभोक्ताओं को सदस्य शशि भूषण मैठाणी ने संबोधित किया और उन्होंने उपभोक्ताओं को उनके अधिकारों के प्रति जागरूक किया । साथ ही उन्होंने शिकायत दर्ज करने का तरीका भी बताया ।

मैठाणी ने विद्युत उपभोक्ताओं को जानकारी दी कि किसी भी प्रकार समस्याओं के लिए टोल फ्री नम्बर 1912 का उपयोग अवश्य करें । साथ विभाग में भी लिखित शिकायत दर्ज करें और प्राप्ति रसीद प्राप्त करें । फिर भी समस्या निस्तारण यदि तय समय में नहीं हो पाए तो फिर उपभोक्ता फोरम में अपनी शिकायत दर्ज करें ।

मैठाणी ने कहा कि उत्तराखंड विद्युत नियामक आयोग व राज्य सरकार ने चमोली और रुद्रप्रयाग के उपभोक्ताओं की समस्याओं के निवारण के लिए कर्णप्रयाग मंडल में यह नया फोरम का गठन किया है । इसका लाभ उपभोक्तओं को भी लेना चाहिए । उन्होंने कहा कि 15 महीनों में नवसृजित फोरम कर्णप्रयाग में चमोली व रुद्रपयाग जनपद से लगभग 110 से अधिक उपभोक्ता शिकायत दर्ज कर चुके हैं जिनमें से 78 उपभोक्ताओं को राहत भी मिल चुकी है । उन्होंने कहा कि विद्युत उपभोक्ता शिकायत निवारण फोरम में दर्ज शिकायतों का 30 से 60 दिनों के भीतर निस्तारण करना अनिवार्य है । इसलिए इस फोरम में शत प्रतिशत शिकायतों की सुनवाई कर तय समय में निस्तारण कर फैसला दे दिया जाता है ।

शिविर में इस दौरान क्षेत्र के 25 उपभोक्ताओं ने विद्युत संबंधित शिकायतों को लिखित रूप से सदस्य शशि भूषण मैठाणी के समक्ष जमा किया । जिसे सदस्य के निर्देशानुसार फोरम से आए विभागीय कर्मचारियों ने तुरन्त दर्ज कर लिया है । उपभोक्ताओं को बताया गया कि आज उनकी दर्ज सभी 25 शिकायतों से संबंधित विवरण विद्युत वितरण खण्ड गोपेश्वर से 10 दिनों के भीतर मांग लिया जाएगा । और 60 दिनों के भीतर उपभोक्ताओं की समस्या का समाधान कर लिया जाएगा ।

शिविर में सदस्य शशि भूषण मैठाणी ने उपभोक्ताओं को मुख्यमंत्री द्वारा विद्युत उपभोक्ताओं को अधिभार शुल्क में दिए गए शत प्रतिशत छूट के बारे जानकारी दी । उन्होंने कहा कि इस खास आकर्षक योजना के तहत उन सभी उपभोक्ताओं को अवसर मिलेगा जिन्होंने पिछले कई वर्षों से बिजली का बिल जमा नही किया है । और उन पर लगातार अधिभार लगकर उन पर हजारों अथवा लाखो की धनराशि बकाया है । उन्होंने कहा कि उपभोक्ताओं के लिए यह स्वर्णिम अवसर है बिलों में भारी छूट पाने का । और यह योजना केवल मई माह तक ही लागू रहेगी । इस अवसर पर उपभोक्ताओं को ऊर्जा निगम की ओर तैयार किया गया आवेदन प्रारूप प्रपत्र भी वितरित किए गए । अधिभार में छूट की जानकारी को उपभोक्ताओं ने सरकार का एक अच्छा निर्णय बताया और आभार भी जताया ।

ग्राम प्रधान नयन सिंह कुंवर ने मंच का आभार जताते हुए कहा कि आज जिस प्रकार उपभोक्ता अधिकारों के प्रति सदस्य शशि भूषण मैठाणी ने बारीकी से समझाया उससे सभी को लाभ मिला । खासकर टोल फ्री नम्बर और शिकायत करने का जो सरल तरीका समझाया उससे आगे निश्चित तौर पर सभी को लाभ मिलेगा । ग्राम प्रधान सेमडुंगरा राजेन्द्र सिंह ने सीजीआरएफ कर्णप्रयाग मण्डल का आभार जताया और अप्रैल माह में सेमडुंगरा ग्राम में भी इसी तरह के शिविर को आयोजित करने का अनुरोध किया ।

इस अवसर पर ग्राम प्रधान मजोठी पूर्ण सिंह फर्स्वाण, उपप्रधान सुमन देवी लासी, मोहन लाल, रमेश लाल, कोतवाल सिंह, विमला देवी, लीला देवी, मालती देवी, मंगला देवी, गोविंद सिंह, राजपाल सिंह आदि ने अपने-अपने विचार शिविर में व्यक्त किये । साथ ही सैकड़ो ग्रामीणों ने शिविर में प्रतिभाग किया और अपनी अपनी समस्याओं को मंच के समक्ष प्रस्तुत किया जिसमें से 25 शिकायतों को सुनवाई हेतु दर्ज कर लिया गया है ।

आज शिविर में मंच के समक्ष एक अनोखा मामला दर्ज हुआ है । जो ऊर्जा निगम की लापरवाई का एक जीता जागता उदाहरण आज उजागर हुआ है । दरअसल एक उपभोक्ता को लगातार 3 वर्षों से दो अलग-अलग नाम से बिल आ रहा है । जबकि कनेक्शन नम्बर एक ही है । यहां बताते चलें कि ग्राम लासी के उपभोक्ता कोतवाल सिंह को दो अलग-अलग नाम कुताल सिंह व कोतवाल सिंह के नाम से हर बार दो अलग-अलग बिल आ रहे हैं । वह उनसे विद्युत विभाग द्वारा जबरन 36 हजार और 24 हजार के बिल भी जमा कराए गए और फिर एक और नोटिस थमा दिया । जब कोतवाल सिंह ने कुताल सिंह के नाम के दूसरे बिल को अपना न बताते हुए जमा नहीं किया तो विभाग ने पूर्व उपभोक्ता के कनेक्शन ही काट दिया था । अब कोतवाल सिंह को घर में रोशनी के लिए मजबूर होकर अपने अलावा हर बार कुताल सिंह नॉयम के दूसरे उपभोक्ता का भी बिल जमा करना पड़ रहा है । इस शिकायत पर सदस्य शशि भूषण मैठाणी ने भी आश्चर्यजनक बताया और इसे विभाग की घोर लापरवाई माना है । उन्होंने कहा कि तीन साल से विभाग उपभोक्ता से एक ऐसे आदमी का बिल जमा करवा रहा है जो धरातल पर है ही नहीं । हालांकि मैठाणी ने उपभोक्ता कोतवाल सिंह की शिकायत को प्राथमिकता से दर्ज करने का निर्देश दिया है । अगले 30 से 60 दिनों के भीतर मामले को समाधान करने का भरोषा उपभोक्ता दिया है ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

नवीनतम

9

8

7

6

5

4

3

2

1

प्रधानमंत्री आवास योजना में तकनीकी कारणों से कोई गरीब वंचित न रहे – मुख्यमंत्री चौहान

 मध्य-प्रदेश  मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि हम बेहतर कार्य करते हुए प्रदेश को विकास के पथ पर अग्रसर करें और प्रदेशवासियों को...