Breaking News
चार धाम सहित पंचकेदार पंच बदरी के कपाट खुलने की तिथियां घोषित
बैसाखी के अवसर पर गुरुद्वारे में कैबिनेट मंत्री गणेश जोशी ने टेका मत्था, प्रदेशवासियों को दी बैसाखी की शुभकामनाएं
मुख्यमंत्री ने भाजपा प्रत्याशी अजय टम्टा को जिताने की अपील की
PM मोदी और धन दा की छोटी सी मुलाकात बनी राजनीतिक गलियारों में चर्चा का विषय
क्षेत्रीय विधायक डॉ प्रेमचंद अग्रवाल ने पीएम मोदी के देवभूमि आगमन पर किया अभिनंदन
कांग्रेस की कमजोर सरकार सीमा पर आधुनिक इंफ्रास्ट्रक्चर नहीं बना पाई – प्रधानमंत्री मोदी
हरियाणा में भाजपा को बड़ा झटका, पूर्व केंद्रीय मंत्री चौधरी बीरेंद्र सिंह कांग्रेस में शामिल
पीएम की गारंटियां देश के हर गरीब और पिछड़े व्यक्ति का जीवन बना रही बेहतर – मुख्यमंत्री
चारधाम यात्रा में ग्रीन कार्ड बनाने का काम शुरू, ये दस्तावेज होंगे जरुरी

राजीव गांधी अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम को विभाग नें लिया कब्जे में, मिली बड़ी सफलता : खेल मंत्री रेखा आर्य

देहरादून / रायपुर :  देहरादून के रायपुर में स्थित राजीव गांधी अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम को विभाग ने अपने कब्जे में ले लिया है। खेल मंत्री ने कहा कि राज्य के लिए यह बड़ी सौगात है।जानकारी देते हुए बताया कि पूर्व में स्टेडियम को निविदा के आधार पर मेर्सस आई०टी०यू०ए०एल० को दिया गया था जिस हेतु उनके द्वारा देहरादून इन्टीग्रेटेड अरीना लि० कम्पनी को निर्मित कर राज्य सरकार के साथ मई, 2018 में अनुरक्षण एवं संचालन हेतु अनुबन्ध गठित किया गया था।

वहीं जब कोरोना काल आया तो कंपनी ने स्टेडियम के संचालन हेतु प्रर्याप्त वित्तीय संसाधन के अभाव में इन्सोल्वेन्सी हेतु मा० एन०सी०एल०टी में वाद दायर किया था। मा० एन०सी०एल०टी द्वारा इस हेतु आई०आर०पी० अंशुल पठानिया को रिजोल्यूशन पलान हेतु नियुक्त किया गया था। माह नवम्बर, 2023 में मा० एन०सी०एल०टी द्वारा मेर्सस ट्राइवर इन्टरप्राइजेज के रिजोल्यूशन प्लान को स्वीकार करते हुये आदेश निर्गत किये गये थे।

लेकिन कम्पनी द्वारा नई संचालन एजेन्सी के रूप मे राज्य सरकार से ना तो अनुमोदन प्राप्त किया गया ना ही मूल अनुबंधी शर्तों के अनुरूप एस्क्रो खाता खोला गया और ना ही अपेक्षित बैंक गारन्टी उपलब्ध करायी गई, बल्कि स्टेडियम में कार्यक्रम आयोजन हेतु विभिन्न संस्थाओं से धनराशि बुकिग हेतु ली गई।

वहीं इस दौरान कंपनी को नियमो का पालन करने के लिए नोटिस कारी किया गया लेकिन कंपनी के द्वारा ना तो नोटिस का जवाब दिया गया और ना ही उनके प्रतिनिधि बैठक में आये।ऐसे में नई संस्था द्वारा की जा रही बुकिंग के विरुद्ध रायपुर थाने में प्राथमिकी भी दर्ज कराई गई है जिसकी जांच जारी है। ऐसे में आज संस्था द्वारा परिसर को रिक्त कर दिया गया है एवं राज्य सरकार द्वारा जन हित में स्टेडियम को अपने नियंत्रण में ले लिया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top