Sunday, February 5, 2023
Home उत्तराखंड उत्तराखंड में गोल्डन कार्ड योजना में बड़े घोटाले की आशंका, विभाग आरटीआइ...

उत्तराखंड में गोल्डन कार्ड योजना में बड़े घोटाले की आशंका, विभाग आरटीआइ का नहीं दे रहा जवाब

हल्द्वानी :

Golden Card Scheme Uttarakhand: राज्य सरकार की कर्मचारियों व पेंशनर्स के इलाज के लिए गोल्डन कार्ड की नीति शुरुआत से ही विवादों में घिरी है। सरकार कार्ड बनवाने के साथ ही वेतन व पेंशन से कटौती करती रही, लेकिन इलाज की सुविधा नहीं दी। अब राज्य स्वास्थ्य प्राधिकरण आठ महीने में हुए इलाज व उसके खर्च बताने को भी तैयार नहीं है।

सरकार ने जनवरी 2021 से योजना को लागू करते हुए अब तक 429013 कर्मचारियों व पेंशनर्स के कार्ड बनवा लिए हैं। प्रत्येक व्यक्ति से 30 रुपये लिए गए। आरटीआइ एक्टिविस्ट रविशंकर जोशी ने सूचना मांगी कि सरकार कितना प्रीमियम जमा कर रही है। पेंशनर्स व कर्मचारियों से की गई कटौती से अब तक कुल कितनी राशि जमा हो गई है। अब तक कितने लोगों ने लाभ ले लिया है? इसके लिए कितना भुगतान किया गया। राज्य स्वास्थ्य प्राधिकरण ने इसकी सूचना होने से ही इन्कार कर दिया।

देहरादून के नौ अस्पताल ही पैनल में शामिल

कितनी विडंबना है कि जिस गोल्डन कार्ड का बखान सरकार व उनके अधिकारी करते रहे। उसके लिए देहरादून के अलावा किसी अन्य शहरों के अस्पताल को पैनल में शामिल नहीं किया। न ही सही जानकारी दी। जनवरी तक केवल देहरादून स्थित नौ अस्पताल ही शामिल किए गए। जबकि इसकी संख्या ज्यादा बताई जा रही थी।

कर्मचारी व पेंशनर्स करते रहे आंदोलन

सरकार की गोल्डन कार्ड की मनमानी नीति से नाराज कर्मचारी व पेंशनर्स ने लंबे समय तक आंदोलन किया। सरकार से इस नियम को वापस लेने की मांग की, लेकिन किसी ने उनकी मांग नहीं सुनी। सरकार ने भी कर्मचारियों को इलाज को लेकर भ्रम में रखा।

आरटीआइ कार्यकर्ता रविशंकर जोशी का कहना है कि गोल्डन कार्ड नीति पर सरकार सवालों के घेरे में है। सरकार यह बताने तो तैयार नहीं है कि अब तक कितने लोगों को इसका लाभ मिला और इसमें कितना बजट खर्च किया गया। इसकी सूचना न देने भी संशय पैदा करता है।

राजकीय पेंशनर्स संघर्ष समिति वीर सिंह बिष्ठ ने बताया कि सरकार ने मनमाने तरीके से गोल्डन कार्ड की नीति थोप दी थी। इसका हम पुरजोर विरोध कर रहे हैं। अब यह मामला हाई कोर्ट में चल रहा है।

वहीं इस मामले में राज्य स्वास्थ्य प्राधिकरण के अध्यक्ष डीके कोटिया ने बताया कि हमारे वहां किसी तरह की सूचना को गोपनीय नहीं रखा गया है। दरअसल योजना नई है। धीरे-धीरे इसमें काम हो रहा है। अब कई और अस्पताल पैनल में शामिल कर लिए गए हैं।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

नवीनतम

सायबर क्राइम, नशे की बढ़ती प्रवृत्ति पर नियंत्रण और पुलिसिंग@2047 के स्वरूप पर विचार-विमर्श के लिए हो कॉन्क्लेव – मुख्यमंत्री चौहान

प्रदेश पुलिस ने कोरोना काल में सड़क पर देश-भक्ति और जन-सेवा के भाव को चरितार्थ किया मध्यप्रदेश में कानून-व्यवस्था की स्थिति बेहतर देश में मध्यप्रदेश पुलिस...

महाराज ने एशिया के पहले होम स्टे हब तिवाड गांव मरोड को किया पर्यटन ग्राम घोषित

सतपाल महाराज ने कुलानंद आश्रम सेम-मुखेम में आयोजित श्रीमद्भागवत कथा में भी किया प्रतिभाग टिहरी। वर्ष 2023 को विश्व स्तर पर अंतर्राष्ट्रीय मोटा अनाज वर्ष...

मुख्य सचिव डॉ. एस.एस. संधु की अध्यक्षता मध्य क्षेत्रीय परिषद की स्थायी समिति की 15वीं बैठक का आयोजन किया गया।

 उत्तराखंड   Dehradun   उत्तराखण्ड के मुख्य सचिव डॉ. एस.एस. संधु की अध्यक्षता में शनिवार को देहरादून में मध्य क्षेत्रीय परिषद की स्थायी समिति की 15वीं बैठक...

राष्ट्र सर्वोपरि की भावना से ओतप्रोत है हमारे वीर सैनिक – मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी

उत्तराखंड, Dehradun ; नैनीताल बैंक द्वारा जोशीमठ भूधंसाव से प्रभावितों के लिये मुख्यमंत्री को सौंपा 20 लाख का चेक ’’राष्ट्र-सर्वोपरि’’ की भावना से ओत-प्रोत हमारे वीर...

धामी सरकार लाने जा रही है सख्त नकलरोधी कानून, पटवारी भर्ती से पहले लग सकती है नकलरोधी कानून पर मुहर

सीएम धामी बोले गड़बडी करने वालो को कतई बख्शा नहीं जायगा देहरादून। उत्तराखंड में पटवारी-लेखपाल भर्ती की परीक्षा से पहले देश का सबसे सख्त नकलरोधी...

“घर वहीं है जहां दिल है” इस प्रकार के अभिनव प्रयासों से युवाओ को मिलती है प्रेरणा – रेखा आर्या

कैबिनेट मंत्री रेखा आर्या ने किया इंटिरियर डिजाइन के शो रूम का विधिवत उद्घाटन देहरादून। कैबिनेट मंत्री रेखा आर्या ने आज राजपुर रोड स्थित आज देहरादून...

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भिण्ड से करेंगे विकास यात्रा का शुभारंभ

मुख्यमंत्री जन-सेवा अभियान के स्वीकृति-पत्र और हितलाभ का होगा वितरण भिण्ड, मुरैना और श्योपुर के पात्र हितग्राही होंगे लाभान्वित मुख्यमंत्री ने की संत रविदास जयंती पर...

प्रभावित को धनराशि समय पर न दिए जाने पर भड़के मंत्री, अधिकारियों की लगाई क्लास

महाराज ने जनपद को दी 14 करोड़ की सौगात, 12.46 करोड़ की धनराशि ग्राम पंचायतों के खाते में की ट्रांसफर  उत्तराखंड   टिहरी  पुनर्वास हेतु सरकार द्वारा निर्गत...

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी से वेंकटेश्वरा मेडिकल कॉलेज एवं यूनिवर्सिटी गजरौला-मेरठ के चेयरमैन एवं चांसलर डॉ. सुधीर गिरी ने भेंट की।

उत्तराखंड, Dehradun  मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी से गुरुवार को मुख्यमंत्री आवास स्थित कैंप कार्यालय में वेंकटेश्वरा मेडिकल कॉलेज एवं यूनिवर्सिटी गजरौला-मेरठ के चेयरमैन एवं चांसलर...

केन्द्रीय मंत्री गडकरी से प्रदेश के उद्यानिकी राज्य मंत्री कुशवाह ने की भेंट

मध्य-प्रदेश केन्द्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी से प्रदेश के उद्यानिकी एवं खाद्य प्र-संस्करण राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) भारत सिंह कुशवाह ने नई...