Sunday, November 27, 2022
Home अंतर्राष्ट्रीय बाइडेन प्रशासन ने कहा-जीएसपी का सवाल अमेरिकी रडार में सबसे ऊपर

बाइडेन प्रशासन ने कहा-जीएसपी का सवाल अमेरिकी रडार में सबसे ऊपर

अमेरिका के बाइडेन प्रशासन ने इस बात के संकेत दिये हैं कि भारत के साथ जीएसपी के मामले को सुलझाना उनके एजेंडो में सबसे ऊपर है। बाइडेन प्रशासन के समक्ष अनेक सांसदों ने भारत की तरफ से इस मामले में की गई जवाबी कार्रवाई का मुद्दा उठाया था। वर्ष 2019 में अमेरिका के पूर्ववर्ती डोनाल्ड ट्रंप सरकार ने अमेरिका के सामन्यीकृत तरजीही प्रणाली (जीएसपी) के तहत लाभार्थी के तौर पर भारत की पात्रता को समाप्त कर दिया था। तब अमेरिका ने कहा था कि भारत ने यह आश्वावसन नहीं दिया है कि वह अपने बाजारों में अमेरिकी उत्पादों को समान और तर्कसंगत पहुंच उपलब्ध करायेगा।

अमेरिका का सबसे पुराना व्यापार तरजीही कार्यक्रम

जीएसपी अमेरिका का सबसे पुराना व्यापार तरजीही कार्यक्रम है। इसके तहत चुने हुए देशों के उत्पादों को अमेरिका के बाजारों में शुल्क मुक्त प्रवेश दिया जाता है। अमेरिका के इस कार्यक्रम के लाभार्थियों में भारत भी शामिल था, जिसे पिछले ट्रंप प्रशासन ने समाप्त कर दिया था। अमेरिका की सीनेट वित्त समिति के कई सदस्यों ने इस मामले को उठाया। अमेरिका के बाइडेन प्रशासन के व्यापार प्रतिनिधि के पद की नामित कैथरीन सी टाई की इस पद के लिये पुष्टि को आयोजित बैठक के मौके पर यह मुद्दा उठा।

टाई ने इस अवसर पर कहा, भारत में जीएसपी के आपके सवाल पर मैं कहना चाहूंगी कि यदि सब ठीक हो जाता है तो यह मुद्दा मेरे एजेंडे में बहुत ऊपर है। उन्होंने सीनेटर मारिया कैंटवेल के सवाल पर यह जवाब दिया। कैंटवेल ने कहा कि अमेरिकी तरफ से जीएसपी के लाभार्थियों की सूची से भारत को हटा दिए जाने के बाद उसने अनेक अमेरिकी उत्पादों पर जवाबी कार्रवाई करते हुए शुल्क बढ़ा दिया। भारत को जीएसपी कार्यक्रम के तहत फायदा मिलता रहा है। वर्ष 2017 में भारत ने इस कार्यक्रम के तहत अमेरिका को 5.7 अरब डालर का निर्यात किया था।

 

 

 

Source Link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

नवीनतम

4

3

2

1

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने शुक्रवार को होटल आई.टी.सी मौर्य, नई दिल्ली में आयोजित  TIMES NOW SUMMIT – 2022 में प्रतिभाग किया।

राज्य में होने वाले विकास को सुनिश्चित करेगा चिंतन शिविर।  उत्तराखंड   Dehradun  मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने कहा कि उत्तराखंड राज्य में चिंतन शिविर का अपना...

राजधानी देहरादून में आज दूसरे दिन भी कई कारोबारियों के ठिकानों पर इनकम टैक्स की कार्रवाई जारी

उत्तराखंड   देहरादून  आज शुक्रवार को भी राजधानी देहरादून में कई कारोबारियों के ठिकानों पर इनकम टैक्स कार्रवाई जारी है। बृहस्पतिवार सुबह आयकर विभाग के अधिकारी...

 प्रधानमंत्री आवास योजना- ग्रामीण में 18602 अतिरिक्त आवास की स्वीकृति मिली, मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने केंद्रीय मंत्री का आभार व्यक्त किया

 डबल इंजन का प्रदेश को मिल रहा फायदाः सीएम धामी  उत्तराखंड   Dehradun  केंद्र सरकार द्वारा प्रधानमंत्री आवास योजना- ग्रामीण में उत्तराखण्ड के लिये 18602 अतिरिक्त आवास...

मुख्य सचिव ने राजस्व वादों की समीक्षा बैठक के दौरान राजस्व वादों के तेजी से निस्तारण के दिए निर्देश

उत्तराखंड   देहरादून।  मुख्य सचिव डॉ. एस.एस. संधु ने शुक्रवार को सचिवालय में राजस्व वादों की समीक्षा बैठक के दौरान राजस्व वादों के तेजी से निस्तारण...

भोपाल काफी सुंदर और समृद्ध शहर- एक्टर कौशिक, प्रमुख सचिव शुक्ला से की सौजन्य भेंट

मध्यप्रदेश बॉलीवुड के ख्यात डायरेक्टर, प्रोड्यूसर एवं एक्टर सतीश कौशिक ने शुक्रवार को मध्यप्रदेश टूरिज्म बोर्ड कार्यालय में प्रमुख सचिव पर्यटन एवं संस्कृति और बोर्ड...

म.प्र. में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कृषि क्षेत्र के विकास में दिया विशेष ध्यान – केन्द्रीय मंत्री गडकरी

मध्य-प्रदेश मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि किसानों की आर्थिक समृद्धि के लिए मध्यप्रदेश में अनेक महत्वपूर्ण कदम उठाए गए हैं। गेहूँ उत्पादन...