Saturday, August 20, 2022
Home क्राइम फर्जी डिग्री पर 10 साल से नौकरी कर रहा था अध्यापक

फर्जी डिग्री पर 10 साल से नौकरी कर रहा था अध्यापक

लक्सर :—

एक अध्यापक पिछले दस साल से फर्जी प्रमाणपत्र के आधार पर नौकरी कर मलाई चाट रहा था। एसआईटी ने उनके प्रमाणपत्रों की जांच कराई तो इलाहाबाद से जारी एलटी की डिग्री फर्जी होने की पुष्टि हुई। जांच रिपोर्ट के बाद उप शिक्षाधिकारी ने लक्सर कोतवाली में शिक्षक के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया है। प्राथमिक शिक्षा विभाग में तैनात शिक्षकों के प्रमाणपत्रों की जांच के लिए सरकार ने नैनीताल हाईकोर्ट के आदेश पर एक एसआईटी गठित कर रखी है। जांच के बाद हरिद्वार के ही कई शिक्षकों पर पहले कार्रवाई की जा चुकी है।_

6 जनवरी 2009 को लक्सर के मलकपुर राजकीय प्राथमिक स्कूल में तैनात सहायक अध्यापक राजवीर सिंह के प्रमाणपत्र की भी एसआईटी जांच कर रही थी। वर्तमान में राजवीर सिंह राजकीय प्राथमिक स्कूल दरगाहपुर में तैनात थे। तैनाती के समय उन्होंने उत्तर प्रदेश के इलाहाबाद से जारी एलटी का प्रशिक्षण प्रमाणपत्र लगाया था। एसआईटी ने प्रमाणपत्र की प्रति सचिव परीक्षा नियमावली प्रभारी इलाहाबाद उत्तर प्रदेश को भेजकर जांच कराई तो पता चला की डिग्री फर्जी है। एसआईटी ने इसकी रिपोर्ट जिला शिक्षाधिकारी प्राथमिक हरिद्वार को भेजकर शिक्षक के खिलाफ कार्रवाई की संस्तुति की थी।

जिला शिक्षाधिकारी ने लक्सर के उप शिक्षाधिकारी अमित कोटियाल को कार्रवाई करने के आदेश दिए थे। उप शिक्षाधिकारी कोटियाल ने शिक्षक को निलंबित करने के साथ ही लक्सर कोतवाली में उसके खिलाफ तहरीर दी थी। कोतवाल प्रदीप चौहान ने बताया कि तहरीर के आधार पर आरोपी शिक्षक राजवीर सिंह पुत्र हुकम सिंह के खिलाफ धोखाधड़ी की धारा में मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। इसकी विवेचना शुरू कर साक्ष्यों का संकलन किया जा रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

नवीनतम