Friday, October 7, 2022
Home राष्ट्रीय जी-23 सम्मेलन में सिब्ब्ल बोले- हम कांग्रेस को कमजोर होते देख रहे

जी-23 सम्मेलन में सिब्ब्ल बोले- हम कांग्रेस को कमजोर होते देख रहे

जम्मू : राज्यसभा के कार्यकाल से सेवामुक्त होने के बाद पहली बार कांग्रेस के वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद शुक्रवार को जम्मू पहुंचे थे। वहीं शनिवार को जम्मू संभाग के सैनिक कालोनी स्थित सैनिक फार्म में शांति सम्मेलन का आयोजन किया गया है। इसमें गुलाम नबी ने कहा कि जम्मू हो या कश्मीर और या फिर लद्दाख हम सभी धर्मों, लोगों और जातियों का एक ही तरह से सम्मान करते हैं। यही हमारी ताकत है और इसे हमेशा ऐसे ही जारी रखा जाएगा। आजाद ने कहा कि राज्य का दर्जा वापस पाने के लिए हमारी संसद के अंदर और बाहर लड़ाई जारी रहेगी। उन्होंने कहा कि मैं राज्यसभा से रिटायर हुआ हूं, राजनीति से नहीं। साथ ही मैं संसद से पहली बार रिटायर नहीं हुआ हूं।

शांति सम्मेलन में कांग्रेस नेता राज बब्बर ने कहा कि लोग कहते हैं जी-23 पर मेरा मानना है कि यह गांधी-23 है। उन्होंने कहा कि महात्मा गांधी के विश्वास, संकल्प और सोच के साथ ही इस देश का कानून और संविधान बना। इस सोच को आगे बढ़ाने के लिए कांग्रेस पूरी मजबूती के साथ खड़ी है।

इसके बाद कार्यक्रम में कपिल सिब्बल ने खुलकर अपनी बात रखी। उन्होंने कहा कि सच ये है कि हम कांग्रेस पार्टी को कमजोर होते देख रहे हैं। यही वजह है कि आज हम यहां इकट्ठा हुए हैं। हमारा उद्देश्य एक साथ होकर पार्टी को मजबूत करना है।

गुलाम नबी आजाद के अनुभव और भूमिका पर सिब्बल ने कहा कि उन्हें उस इंजीनियर के रूप में जाना जाता है जोकि विमान उड़ाने के साथ ही खराबी का पता लगाने और उसकी मरम्मत करने में साथ देता है। सिब्बल ने कहा कि आजाद ऐसे नेता हैं जो हर राज्य के हर जिले में कांग्रेस की जमीनी हकीकत जानते हैं। आजाद को दोबारा राज्यसभा न भेजे जाने के फैसले पर भी सवाल उठाया। कहा कि मुझे समझ नहीं आ रहा कि कांग्रेस उनके अनुभव का उपयोग क्यों नहीं कर रही है।

इसके बाद वरिष्ठ नेता आनंद शर्मा ने राज्य सभा में जम्मू-कश्मीर के प्रतिनिधित्व पर बोलते हुए कहा कि 1950 के बाद ऐसा पहली बार हुआ है जब संसद के उच्च सदन में केंद्र शासित प्रदेश का कोई प्रतिनिधि नहीं है। उन्होंने कहा कि पिछले एक दशक में कांग्रेस कमजोर हुई है। हमारी आवाज पार्टी के उज्जवल सियासी भविष्य के लिए है। नई पीढ़ी को पार्टी से जुड़ना चाहिए। शर्मा ने कहा कि हमने पार्टी के अच्छे दिन देखे हैं। उम्र के इस पड़ाव पर हम पार्टी को कमजोर होते हुए नहीं देखना चाहते।

उन्होंने कहा कि हम गुलाम नबी के साथ है। कांग्रेस हमारी पहचान है। हम कांग्रेस की ताकत और एकता में विश्वास करते हैं। आज हम जहां हैं, यहां तक पहुंचने के लिए हम सभी ने बहुत लंबी दूरी तय की है। तंज कसते हुए उन्होंने कहा कि हमारे बीच कोई भी खिड़की से नहीं आया है, हम सभी दरवाजे से चले हैं। हम छात्रों और युवा आंदोलन के माध्यम से यहां तक आए हैं।

आजाद के साथ पार्टी के व्यवहार से भी नाराजगी
राज्यसभा से सेवानिवृत्त गुलाम नबी आजाद के साथ पार्टी की ओर से किए गए व्यवहार से भी जी-23 से जुड़े लोग नाराज हैं। उनका कहना है कि इतने वर्षों तक कांग्रेस में रहने के बाद भी कांग्रेस हाईकमान ने दोबारा उन्हें मौका नहीं दिया। प्रधानमंत्री तक ने उन्हें सम्मान दिया लेकिन अपनी पार्टी ने कोई सम्मान नहीं दिया। राबर्ट वाड्रा का केस लड़ रहे वकील को राज्यसभा का सदस्य बना दिया गया। मल्लिकार्जुन खडगे को राज्यसभा में विपक्ष का नेता जी-23 के वरिष्ठ सदस्यों की अनदेखी करते हुए बना दिया गया।

इससे पहले आजाद शुक्रवार को शहीदी चौक स्थित प्रदेश कांग्रेस पार्टी मुख्यालय में नेताओं और कार्यकर्ताओं से रूबरू हुए थे। इस दौरान आजाद ने कहा कि वह 42 साल तक पार्टी में कई अहम पदों पर रहे और 18-18 घंटे तक काम किया। सोनिया गांधी से मुझे फिर से महासचिव न बनाने को कहा था। उन्होंने पूर्व सांसद मदन लाल और मोहम्मद शरीफ नियाज को याद किया।

 

 

 

Source Link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

नवीनतम

मुख्य सचिव की अध्यक्षता में आयोजित की गई राज्य स्वास्थ्य प्राधिकरण, उत्तराखण्ड की द्वितीय शासकीय सभा की बैठक

 उत्तराखंड   देहरादून  मुख्य सचिव डॉ. एस.एस. संधु की अध्यक्षता में सचिवालय में राज्य स्वास्थ्य प्राधिकरण, उत्तराखण्ड की द्वितीय शासकीय सभा की बैठक आयोजित हुयी। बैठक...

खुशखबरी : धामी सरकार दिवाली पर देने जा रही है 1 लाख 20 हजार कर्मचारियों को बोनस का तोहफा, चार प्रतिशत डीए की फाइल...

 उत्तराखंड   देहरादून  राज्य के सरकारी कर्मचारियों को दिवाली बोनस का तोहफा मिलने वाला है। प्रदेश सरकार ने दीपावली का बोनस देने की तैयारियां शुरू कर...

प्राकृतिक खेती को मिशन मोड में अपनाने से हम आने वाली पीढ़ी के लिए धरती को सुरक्षित स्वरूप में छोड़ पाएंगे – मुख्यमंत्री शिवराज...

 मध्य प्रदेश   Bhopal  मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा प्राकृतिक खेती और डिजिटल कृषि के अभियान को मिशन मोड में लेने के...

उत्तराखंड में जनहित से जुड़ी चार बड़ी चुनौतियों से निपटने के लिए सुप्रीम जंग की तैयारी में धामी सरकार

 उत्तराखंड   देहरादून  चार बड़ी चुनौतियों से घिरी प्रदेश की धामी सरकार अब निर्णायक जंग लड़ने जा रही है। इन चार चुनौतियों में महिलाओं और राज्य...

पति से कहासुनी हुई तो महिला ने गोद में बैठे डेढ़ वर्षीय मासूम बच्चे के साथ चलती बाइक से लगाई छलांग

उत्तराखंड पति से कहासुनी हुई तो महिला ने गोद में बैठे डेढ़ वर्षीय मासूम बच्चे के साथ चलती बाइक से छलांग लगा दी। घटना में...

बीजेपी युवा मोर्चा की प्रवक्ता नेहा शर्मा ने कांग्रेस नेत्री के खिलाफ एसएसपी देहरादून को शिकायती पत्र सोंपा, जानिए क्या था मामला

  उत्तराखंड   देहरादून   भारतीय जनता पार्टी, युवा मोर्चा की प्रदेश प्रवक्ता नेहा शर्मा ने आज देहरादून के एस एस पी से मिलकर गरिमा मेहरा दौसानी,...

डोईवाला रेलवे लाइन पर बंधा था मौत का सामान, साजिश को नाकाम करते लोको पायलट ने दिखाई समझदारी , बचाई बहुतों की जान

 उत्तराखंड   देहरादून   डोईवाला   मंगलवार रात देहरादून से अमृतसर जा रही लाहौरी एक्सप्रेस जैसे ही डोईवाला से आगे निकली, यह पाइप ट्रेन के पहिये में जाकर...

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने स्व. प्यारेलाल खंडेलवाल की स्मृति में पौध-रोपण किया

मध्यप्रदेश मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने स्व. प्यारेलाल खंडेलवाल की पुण्य-तिथि पर उनकी स्मृति में स्मार्ट सिटी उद्यान में पौध-रोपण किया। मुख्यमंत्री चौहान के साथ...

सुबह आठ बजे घूमने गए बुजुर्ग को हाथी ने पटक-पटक कर उतारा मौत के घाट

उत्तराखण्ड / देहरादून / रायपुर / बालावाला  ; उत्तराखण्ड की राजधानी देहरादून के रायपुर थाना क्षेत्र के बालावाला से एक ख़बर सामने आयी है। जहां...

राज्यपाल मंगुभाई पटेल नागरिक कल्याण समिति के विजयादशमी समारोह में हुए शामिल, कहा विजयादशमी का पर्व अनीति पर नीति की विजय का पर्व है।

मध्यप्रदेश; राज्यपाल मंगुभाई पटेल ने कहा है कि समाज के वंचित और पिछड़े वर्ग की सेवा में ही ईश्वर की आराधना है। उन्होंने कहा कि...