Breaking News
अब विकास प्राधिकरण क्षेत्रांतर्गत किसी भी प्रकार के विकास के लिए मानचित्र स्वीकृत कराना होगा अनिवार्य
अग्निवीर योजना सक्षम सैनिक, सशक्त सेना की दिशा में क्रांतिकारी कदम – जोशी
एससी एसटी (अत्याचार निवारण) अधिनियम के तहत लंबित मामलों के निस्तारण पर जोर
जब मुंबई में बदरीनाथ मंदिर बना था, तब क्यों चुप थे कांग्रेसी
प्रभारी रावल पद पर विराजमान हेतु श्री बदरीनाथ धाम में धार्मिक अनुष्ठान हुए शुरू
श्री बदरीनाथ धाम में नायब रावल अमरनाथ नंबूदरी संभालेंगे पूजा- पाठ का जिम्मा
हरेला पर्व पर दून जिले में रोपे जाएंगे 10 लाख से अधिक पौधे
रूसी सेना में भर्ती हुए भारतीयों की होगी वतन वापसी, पीएम मोदी ने पुतिन के सामने उठाया मुद्दा
मानसिक रोगग्रस्त बच्चों और किशोरों का होगा सर्वे

एसजीआरआरयू के योग छात्र सुमेर ने राष्ट्रीय योग चैम्पियनशिप में लहराया परचम

देहरादून। श्री गुरु राम राय विश्वविद्यालय (एसजीआरआरयू) के स्कूल ऑफ यागिक साइंस एण्ड नैचुरोपैथी के छात्र सुमेर ने राष्ट्रीय योगासना स्पोट्स चैम्पियनशिप 2023-24 में परचम लहरया। बीएससी द्वितीय वर्ष के छात्र सुमेर ने राष्ट्रीय प्रतियोगिता में तृतीय स्थान प्राप्त कर विश्वविद्यालय एवम् राज्य का नाम रौशन किया। राष्ट्रीय योगासना स्पोट्स चैम्पियनशिप में 25 राज्यों के 600 योग साधकों ने प्रतिभाग किया। साथ ही बीएसएफ के जवानों ने भी योग के विविध अभ्यासों का प्रदर्शन किया।  श्री गुरु राम राय विश्वविद्यालय के कुलाधिपति श्रीमहंत देवेन्द्र दास जी महाराज ने सुमेर एवम् स्कूल ऑफ यागिक साइंस एण्ड नैचुरोपैथी के डीन एवम् फैकल्टी सदस्यों को बधाई एवम् शुभकमानाएं दीं।
एसजीआरआरयू के कुलपति प्रो. (डाॅ) यशबीर दीवान एवम् कुलसचिव डाॅ अजय कुमार खण्डूड़ी ने सुमेर को उज्जवल भविष्य की शुभकामनाएं दीं। राष्ट्रीय योगासना स्पोट्स चैम्पियनशिप का आयेाजन डिंडीगुल, तमिलनाडू में हुआ। तमिलनाडू यूथ योगासन स्पोर्ट्स एसोसिएशन योगासन भारत की ओर से प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। एसजीआरआयू के स्कूल ऑफ यागिक साइंस एण्ड नैचुरोपैथी के डीन प्रो. (डाॅ.) कंचन जोशी ने जानकारी दी कि राष्ट्रीय योगासना स्पोट्स चैम्पियनशिप में चयनित होने  से पूर्व सुमरे ने जिला स्तरीय योगासन चैम्पियनशिप देहरादून  में प्रथम स्थान एवम् राज्य स्तरीय योगासन चैम्पियनशिप में स्वर्ण पदक जीतकर प्रथम स्थान हासिल किया।
उन्होंने बताया कि एसजीआरआरयू के छात्र-छात्राएं योगासन की राष्ट्रीय एवम् अन्तर्राष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में श्रेष्ठ प्रदर्शन कर विश्वविद्यालय एवम् राज्य का नाम रोशन कर रहे हैं। काबिलेगौर है कि सुमेर उत्तराखण्ड से पारंपरिक योगासन श्रेणी में पदक जीतने वाले एकमात्र प्रतिभागी हैं। सुमेर ने सीनियर वर्ग में मेडल जीतकर देश में अपनी प्रतिभा का लोहा मनवाया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top