Saturday, October 8, 2022
Home दिल्ली दिल्ली AIIMS में 18 जून से शुरू होगी OPD सेवाएं, कोरोना के...

दिल्ली AIIMS में 18 जून से शुरू होगी OPD सेवाएं, कोरोना के चलते दो महीने से थी बंद

आरोपी ने बताया कि वह आउटलेट में सुरक्षा गार्ड के रूप में काम करता है. वह शराब और ड्रग्स का आदी है. ड्रग्स की अपनी जरूरतों को पूरा करने के लिए उसने एक पुलिस अधिकारी बनकर राहगीरों को ठगना शुरू कर दिया.

नई दिल्ली.

दिल्ली पुलिसके दक्षिण-पूर्वी जिले के लाजपत नगर थाने की टीम ने पुलिस अधिकारी बनकर लोगों को ठगने वाले आरोपी को गिरफ्तार किया है. पुलिस ने उसके पास से तीन मोबाइल फोन, एक पर्स और बाइक बरामद की है.

दक्षिण-पूर्वी जिला पुलिस उपायुक्त आर. पी. मीणा ने बताया कि 10 जून को, शिकायतकर्ता ने अपनी शिकायत में बताया कि 9 जून को, वह दोस्तों के साथ बाजार से अपने घर जा रहा था. सुबह करीब 10.40 बजे मूलचंद फ्लाईओवरके पास अपाचे बाइक पर एक व्यक्ति ने खुद को पुलिस अधिकारी बताकर ओवरटेक कर उन्हें रोक दिया और उनके दो मोबाइल फोन और एक पर्स लेकर मौके से फरार हो गया.

इसके बाद पुलिस ने मामला दर्ज कर एसीपी लाजपत नगर मनोज कुमार की देखरेख में एसएचओ लाजपत नगर धर्म देव के निर्देश पर एसआई अमित ग्रेवाल, पीएसआई अमनदीप राणा, कांस्टेबल लाखन, राजेंद्र और पूरन की टीम ने घटना के आस-पास स्थापित सीसीटीवी फुटेज का विश्लेषण कर एक अपाचे  बाइक की पहचान की.
टीम ने उक्त स्थान पर छापेमारी कर महेंद्र पाल उर्फ संदीप (26) को गिरफ्तार कर उसके पास से तीन मोबाइल फोन, एक पर्स, बाइक और घटना के समय पहने हुए कपड़े बरामद किए गए.

पुलिस पूछताछ के दौरान आरोपी ने बताया कि वह आउटलेट में सुरक्षा गार्ड के रूप में काम करता है. वह शराब और ड्रग्स का आदी है. ड्रग्स की अपनी जरूरतों को पूरा करने के लिए उसने एक पुलिस अधिकारी बनकर राहगीरों को ठगना शुरू कर दिया. उसने पुलिसकर्मी के रूप में मोबाइल और पर्स लेने की ठगने की घटना में अपनी संलिप्तता स्वीकार की है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

नवीनतम