Saturday, October 8, 2022
Home राष्ट्रीय Maharashtra  शरद पवार बोले- गृह मंत्री के इस्तीफे पर सीएम करेंगे विचार

Maharashtra  शरद पवार बोले- गृह मंत्री के इस्तीफे पर सीएम करेंगे विचार

सीएम उद्धव ठाकरे को लिखी गई परमबीर सिंह की चिट्ठी के बाद सियासत तेज हो गई है। चिट्ठी में एनसीपी नेता और गृहमंत्री अनिल देशमुख पर सचिन वाझे से वसूली करवाने का आरोप है। इन आरोपों के बाद अनिल देशमुख पर इस्तीफे का दबाव बन गया है। इस एनसीपी चीफ शरद पवार ने कहा कि गृहमंत्री अनिल देशमुख पर गंभीर आरोप लगाए गए हैं। गृहमंत्री के इस्तीफे पर मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे विचार करेंगे। सरकार की छवि खराब करने के लिए ऐसा किया गया है। महाराष्ट्र सरकार पर कोई संकट नहीं है। परमबीर की चिट्ठी पर सवाल उठाते हुए उन्होंने कहा कि पत्र पर किसी का हस्ताक्षर नहीं है। पत्र में कहीं भी जिक्र नहीं किया गया है कि पैसा किसके पास गया।

शरद पवार ने कहा कि मामले की जांच के बारे में मुख्यमंत्री फैसला लेंगे। सीएम के पास फैसला लेने का पूरा अधिकार है। कमिश्नर रहते हुए परमबीर ने कभी आरोप नहीं लगाया। जब कार्रवाई हुई तब आरोप लगाया है। सचिन वाझे की नियुक्ति पर पवार ने कहा कि वाझे की नियुक्ति पुलिस कमिश्नर ने किया था। मुख्यमंत्री या गृहमंत्री ने सचिन वाझे की नियुक्ति नहीं किए थे।

एनसीपी प्रमुख शरद पवार ने कहा कि गृहमंत्री अनिल देशमुख पर कल या परसों तक फैसला लिया जा सकता है। जो भी फैसला हो आम सहमति से लिया जाएगा। सीएम उद्धव ठाकरे व एनसीपी नेताओं से बातचीत के आधार पर फैसला लिया जाएगा।

मुंबई के पूर्व पुलिस कमिश्नर परमबीर ने सीएम उद्धव ठाकरे को भेज पत्र की पुष्टि की है। समचार एजेंसी एएनआई के अनुसार उन्होंने कहा कि जो पत्र भेजा गया है वह मेरे मेल आईडी से ही भेजा गया है। बता दें कि शनिवार को परमबीर ने मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के नाम पत्र लिखा, जिसमें महाराष्ट्र के गृहमंत्री अनिल देशमुख पर आरोप लगाते हुए कहा कि उन्होंने सचिन वाझे से 100 करोड़ रुपये हर महीने वसूली करने को कहा था। वहीं, इस मसले पर अनिल देशमुख ने ट्वीट कर कहा कि परमबीर सिंह ने खुद को कानूनी कार्रवाई से बचाने के लिए ऐसे आरोप लगाए हैं।

नागपुर में भाजपा कार्यकर्ता महाराष्‍ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे हैं। भाजपा नेता किरीट सोमैया ने कहा कि सचिन वझे की वसूली गैंग महाराष्‍ट्र के गृहमंत्री के लिए हर महीने 100 करोड़ की वसूली करती थी। उद्धव सरकार को पंद्रह महीने हो गए इसलिए सरकार को पंद्रह सौ करोड़ के भ्रष्‍टाचार का हिसाब देना होगा। वहीं भाजपा प्रवक्ता राम कदम ने महाराष्ट्र के सीएम और गृहमंत्री का नार्को टेस्ट कराते हुए तुरंत इस्तीफे की मांग की।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

नवीनतम