Tuesday, November 29, 2022
Home उत्तराखंड " नंदा गौरा कन्याधन योजना के आवेदन जमा करने की अंतिम तिथि...

” नंदा गौरा कन्याधन योजना के आवेदन जमा करने की अंतिम तिथि 30 नवम्बर , ऐसे करे आवेदन “

कक्षा 12 उत्तीर्ण छात्रा अब 30 नवम्बर तक नंदा गौरा कन्याधन योजना छत्रवृत्ति हेतु आवेदन कर सकते है। पिछले समय से नंदा गौरा कन्याधन योजना छात्राओं को आवंटित नही हो पा रही थी। अतः छात्राएं और अभिभावक राज्य सरकार से लगातार मांग करते आ रहे थे।

राज्य सरकार ने उन सभी छात्राओं को राहत देते हुए नंदा गौरा कन्याधन योजना के लाभ लेने की तिथि तय कर दी है। इसके लिए 12 वीं पास छात्राएं 30 नवम्बर तक आवेदन कर सकती है। ऐसी छात्राएं अपने जनपद के बाल विकास परियोजना कार्यालय से आवेदन फॉर्म निशुल्क प्राप्त कर सकती है। आवेदन करने के लिए छात्राओं को निम्न दस्तावेज समिट करने होंगे।

1-12वीं पास का रिजल्ट ।
2-आवेदक छात्रा का एकल बैंक का खाता।
3-जन्मतिथि प्रमाण पत्र ।
4-आधार कार्ड ।
5-अविवाहित प्रमाण पत्र जो कि प्रधान या आंगनबाड़ी कार्यकत्री द्वारा जारी किया गया हो।
6-एसडीएम द्वारा जारी स्थायी प्रमाण पत्र और परिवार रजिस्टर की कॉपी।
7-स्कूल प्रधानाचार्य द्वारा संस्तुति।
8-बालिका का नवीनतम फ़ोटो।
9-बालिका की माता का आधार कार्ड।
10-आंगनबाड़ी कार्यकत्री द्वारा संस्तुति।

नंदा गौरा कन्याधन योजना का लाभ गरीबी रेखा से नीचे, बीपीएल परिवारों, अनुसूचित जातियों, जनजातियों, उत्तराखंड के मूल निवासी तथा जिन अभिभावकों की मासिक आय 6 हज़ार या वार्षिक आय 72 हज़ार से अधिक न हो वे भी 12वी पास अपनी बेटी का आवेदन नंद गौरा कन्याधन योजना के लिए कर सकते है।

ज्ञात हो कि सरकार ने नंदा गौरा कन्याधन योजना साल 2017 से आरम्भ की है। इस दौरान से ही यह तय है कि 12वीं पास करने के बाद अमुक छात्रा को 51 हज़ार रुपये की धनराशि दी जाएगी। मगर हुआ यह कि 2017 के बाद यह योजना बाल कल्याण विभाग के पास स्थान्तरित हो गई। 2020 तक आते आते यह महत्वपूर्ण योजना हिचकोले खाने लग गई। कारण इसके साल 2020 सितंबर माह तक 1889 बालिकाएं इस योजना से वंचित रही गई। इस पर संबधित विभाग का तर्क है कि पर्याप्त बजट न होने से ऐसा हुआ था।

नंद गौरा कन्या धन योजना का लाभ 12वीं पास लकड़ियां ले सकती है इस हेतु छात्राओं को 51 हज़ार की धनराशि शिक्षा या शादी के लिए दी जाती है। इस तरह इस योजना का लाभ एक परिवार की दो बालिकाओं को मिल सकता है। फलस्वरूप इसके अब लोग अपनी बेटीयों को स्कूल भेजने लग गए है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

नवीनतम

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में ही संभव हो सका जम्मू-कश्मीर में पंचायतों का गठन : महाराज

जम्मू-कश्मीर से आये सैकडों पंचायत प्रतिनिधियों ने की पंचायत मंत्री से भेंट देहरादून। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में ही जम्मू-कश्मीर में पंचायतों का गठन...

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने नई दिल्ली में मध्यांचल भवन परिसर में रोपा आँवले का पौधा

मध्य प्रदेश; मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आज दिल्ली प्रवास के दौरान मध्यांचल भवन परिसर में पौध-रोपण किया। मुख्यमंत्री चौहान ने आँवले का पौधा लगाया...

देहरादून चंद्रमणि चौक पर हुआ बड़ा हादसा, बेकाबू ट्रक ने कई लोगों को कुचला

देहरादून। चंद्रमणि चौक पर बड़ा हादसा हो गया,  यहां एक बेकाबू ट्रक ने कई लोगों को कुचल दिया। हादसे में एक की मौत हुई और...

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने जनपद टिहरी क्षेत्रान्तर्गत परोगी(अगलाड़) थत्यूड़ में विभिन्न विकास योजनाओं का किया लोकार्पण एवं शिलान्यास।

उत्तराखंड, Dehradun  मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने सोमवार को जनपद टिहरी क्षेत्रान्तर्गत परोगी(अगलाड़) थत्यूड़ में विभिन्न विकास योजनाओं का लोकार्पण एवं शिलान्यास किया। उन्होंने अठजूला...

मुख्यमंत्री चौहान खरगोन में विधायक बिरला की सुपुत्री के विवाह समारोह में हुए शामिल

मध्य प्रदेश मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान आज खरगोन में बड़वाह विधायक सचिन बिरला की सुपुत्री सोनाली के विवाह समारोह में शामिल हुए। मुख्यमंत्री चौहान ने...

डॉ. धन सिंह रावत, स्वास्थ्य मंत्री  : एक क्लिक पर मिलेगी मेडिकल हिस्ट्री

उत्तराखंड, Dehradun आयुष्मान भारत हेल्थ अकाउंट बनाने से किसी भी व्यक्ति के लिए स्वास्थ्य दस्तावेज संभाल कर रखने का झंझट नहीं रहेगा। अब तक प्रदेश...

कांग्रेस नेता हरीश रावत : ‘दाढ़ी रखने से कोई गुरु रविंद्रनाथ टैगोर नहीं बन जाता’ 

उत्तराखंड, Dehradun ; कांग्रेस नेता राहुल गांधी की दाढ़ी पर मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के बयान के बाद पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने भी उन्हीं...

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने नई दिल्ली में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के मन की बात कार्यक्रम को सुना।

उत्तराखंड / नई दिल्ली ; मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने रविवार को नई दिल्ली में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के मन की बात कार्यक्रम को सुना।...

बच्चे फास्ट फूड से बचें और प्राकृतिक चीजों को अपनाये : राज्यपाल मंगुभाई पटेल

आरोग्य भारती की राष्ट्रीय फिजियोथैरेपी कॉन्फ्रेंस मध्य-प्रदेश, Bhopal ; राज्यपाल मंगुभाई पटेल ने कहा है कि फिजियोथैरेपी के ज़रिए सम्पूर्ण स्वास्थ्य को ठीक रखा जा सकता...

अब धर्मनगरी की विभिन्न सामाजिक और धार्मिक संस्थाएं संभालेंगी गंगा घाटों की सफाई और सुंदरीकरण का कार्य

 उत्तराखंड    हरिद्वार  धर्मनगरी की विभिन्न सामाजिक और धार्मिक संस्थाएं अब नगर निगम क्षेत्र के अंतर्गत गंगा घाटों की सफाई और सुंदरीकरण का कार्य संभालेंगी,...