Thursday, August 11, 2022
Home उत्तराखंड उत्तराखंड में 22 जून तक बढ़ा कोविड कर्फ्यू, शर्तों के साथ चारधाम...

उत्तराखंड में 22 जून तक बढ़ा कोविड कर्फ्यू, शर्तों के साथ चारधाम यात्रा शुरू

उत्तराखंड, देहरादून : 

 सुबोध उनियाल  –  चारधाम यात्रा के लिए आरटीपीसीआर निगेटिव रिपोर्ट जरूरी होगी। 

उत्तराखंड सरकार ने आगामी 22 जून तक कोविड कर्फ्यू बढ़ा दिया गया है। वहीं राज्य के तीन जिलों के लोगों के लिए चारधाम यात्रा भी खोल दी गई है।

पांच दिन खुलेंगी मिठाई की दुकानें
इस दौरान मिठाई की दुकानें सप्ताह में पांच दिन खुलेंगी। अन्य दुकानें तीन दिन खोली जाएंगी। अब राजधानी देहरादून में विक्रम, टैम्पों और सिटी बसें भी संचालित हो सकेंगी।

शासकीय प्रवक्ता सुबोध उनियाल ने बताया कि आज शाम तक नई एसओपी जारी हो जाएगी।

ये व्यवस्था पहले की तरह रहेगी लागू

सिनेमा हॉल, शॉपिंग माल, जिम, खेल, स्टेडियम, खेल मैदान, स्वीमिंग पूल, मनोरंजन पार्क, थियेटर, ऑडिटोरियम व बार अभी बंद ही रहेंगे।

100 प्रतिशत सवारी के साथ वाहनों का संचालन

कोविड कर्फ्यू के दौरान अंतरराज्यीय सार्वजनिक वाहनों का संचालन अब 100 प्रतिशत सवारी के साथ हो सकेगा।

ये व्यवस्था पहले की तरह रहेगी लागू
1. पर्वतीय जिलों में जाने के लिए आरटीपीसीआर निगेटिव रिपोर्ट जरूरी।
2.  राज्य के बाहर से उत्तराखंड आने वाले के लिए 72 घंटे की आरटीपीसीआर निगेटिव रिपोर्ट जरूरी।
4.  गढ़वाल और कुमाऊं के बीच यात्रा के लिए आरटीपीसीआर की जरूरत नहीं, ऑनलाइन पंजीकरण जरूरी।

आज से पहाड़ में चलीं निजी बसें
कोविड कर्फ्यू में यात्री क्षमता कम होने और किराया दोगुना न करने के विरोध में बंद निजी बसें सोमवार से चलनी शुरू हो गई हैं। उत्तराखंड बस ऑपरेटर्स संयुक्त महासंघ ने यह निर्णय लिया है।

महासंघ के अध्यक्ष जीत सिंह पटवाल ने पत्र जारी करते हुए कहा कि सरकार ने 100 फीसदी यात्री क्षमता के साथ बस संचालन की अनुुमति दे दी है, इसलिए उन्होंने बस संचालन का फैसला लिया है। पहाड़ में सभी बसें 14 जून से शुरू हो गई हैं।

उन्होंने कहा है कि हर यात्रा से पहले और बाद में बसों का सैनिटाइज किया जाएगा। यात्री किराया व अन्य सभी नियम सरकार के मुताबिक यथावत रहेंगे।

शादी समारोह, टेम्पो और राजस्व कोर्ट को राहत

सरकारी प्रवक्ता सुबोध उनियाल ने बताया कि मार्केट पहले की तरह प्रतिबंधों के साथ हफ्ते में तीन दिन खुलेंगे. केवल मिठाई की दुकानों को सप्ताह में पांच दिन खोले जाने की छूट दी गई है. इसके अलावा शादी, समारोह में भी रियायत दी गई है. शादी समारोह में लोगों की संख्या बीस से बढ़ाकर पचास कर दी गई है, लेकिन यहां भी आरटीपीसीआर की नेगेटिव रिपेार्ट अनिवार्य होगी. इसके अलावा राजस्व कोर्ट को भी खोलने की अनुमति मिली है. एक दिन में अधिकतम बीस वाद के लिए ही कोर्ट खुली रहेगी.

नई एसओपी में टैम्पो और विक्रम संचालकों को भी राहत दी गई है. टैम्पो और विक्रम संचालक पूरी कैपेसिटी के साथ सवारियां ले जा सकेंगे. बॉर्डर पर अब भी आरटीपीसीआर नेगेटिव रिपोर्ट अनिवार्य रहेगी.

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

नवीनतम