Friday, February 3, 2023
Home राष्ट्रीय आईफा (इंडियन इंटरनेशनल फिल्म अकादमी) ने अबू धाबी में जमाई हिंदी की...

आईफा (इंडियन इंटरनेशनल फिल्म अकादमी) ने अबू धाबी में जमाई हिंदी की धमक, सलमान बोले- यह भारतीय सिनेमा के विश्वस्तरीय जलसे का मौका

♦♦♦

इंडियन इंटरनेशनल फिल्म अकादमी (आईफा) पुरस्कार के 22वें संस्करण का श्रीगणेश आज यहां अबू धाबी के एतिहाद एरेना सेंटर में हुआ तो भारतीय फिल्म जगत के सितारों समेत कार्यक्रम में मौजूद सभी लोग भावुक हो उठे। अबू धाबी के पर्यटन विभाग के महानिदेशक ने कार्यक्रम में मौजूद सभी लोगों का स्वागत हिंदी में किया तो देर तक तालियां बजती रहीं। करीब ढाई साल बाद फिल्मी सितारों को उनके प्रशंसकों तक पहुंचाने वाला ये सबसे बड़ा मेला विदेश पहुंचा है और जिस देश में पहुंचा है वहां की एक चौथाई आबादी भारतीय है। संयुक्त अरब अमीरात सरकार देश में फिल्मों की शूटिंग पर 30 फीसदी तक की आर्थिक मदद दे रही है और इस मौके पर अबू धाबी फिल्म आयोग की तरफ से यहां एक विशाल फिल्म सिटी स्थापित करने का भी एलान किया गया। अबू धाबी पर्यटन विभाग, यस आईलैंड प्रशासन और आईफा के संयुक्त तत्वावधान में शुरू हुए आईफा 2022 का पहला दिन दुनिया भर से यहां पहुंचे पत्रकारों के सामने अगले दो दिन कार्यक्रम के विवरण पर केंद्रित रहा।

सलमान खान के नाम रही शाम
अबू धाबी में शुक्रवार और शनिवार को प्रस्तावित आईफा रॉक्स और आईफा अवार्ड में शाहिद कपूर से लेकर रितेश देशमुख, टाइगर श्रॉफ, कार्तिक आर्यन, अनन्या पांडे, सारा अली खान, देवी श्री प्रसाद और यो यो हनी सिंह जैसे दिग्गजों की प्रस्तुतियां होनी हैं। इन सभी कलाकारों ने गुरुवार के कार्यक्रम में एक एक करके अपनी तैयारियों के बारे में बताया। लेकिन इस विश्व मीडिया संवाद का केंद्र रहे सलमान खान। सलमान खान ने कहा कि आईफा एक विचार की तरह आगे बढ़ा है और इसके 22वें संस्करण के अबू धाबी की मेजबानी करने का उन्हें भी इंतजार है। अबू धाबी को अपनी पसंदीदा जगहों में से एक बताते हुए सलमान ने कहा कि आईफा भारतीय सिनेमा को विश्व स्तर पर मनाता है और इस जलसे का इंतजार दुनिया भर के लोगों को है।

यहां तो बॉम्बे ही है
संयुक्त अरब अमीरात में भारत के राजदूत संजय सुधीर ने इस मौके पर भारत और संयुक्त अरब अमीरात के मजबूत ऐतिहासिक और सांस्कृतिक रिश्तों की बात करते हुए कहा कि आईफा के लिए अबू धाबी सबसे उपयुक्त स्थान है। मुंबई को बॉम्बे कहकर बुलाते हुए उन्होंने कहा कि ये शहर दुनिया के इस हिस्से में अब भी इसी नाम से जाना जाता है। इस शहर से अमीरात के लोगों का रिश्ता पीढ़ियों से रहा है और संयुक्त अरब अमीरात को भारत से जोड़ने वाला ये सबसे बड़ा बंदरगाह भी रहा है। अब ये रिश्ता और ऊर्जावान हो रहा है। व्यापार और निवेश के नए समझौते बन रहे हैं। ऐसे में आईफा दोनों देशों  और दोनों देशों के लोगों के बीच व्यक्तिगत रिश्ते भी बना रहा है।

शूटिंग करने पर 30 फीसदी नकदी वापस
आईफा 2022 की प्रेस कांफ्रेंस में सबसे सटीक और सबसे उपयोगी बातें की अबू धाबी फिल्म कमीशन के प्रमुख हैंस फ्रैंकिन ने। उन्होंने कहा कि भारतीय फिल्मों की शूटिंग अबू धाबी में करना बहुत आसान है। ऋतिक रोशन की फिल्म ‘विक्रम वेधा’ की हाल ही में संपन्न शूटिंग में 2500 भारतीयों की जरूरत को हमने चुटकी बजाते पूर कर दिया। यह यहां की खासियत है क्योंकि दुनिया में सबसे ज्यादा भारतीय अगर भारत के अलावा किसी दूसरे देश में रहते हैं तो वह संयुक्त अरब अमीरात ही है। फिल्म ‘टाइगर जिंदा है’ के लिए बने सेट को पर्यटकों के लिए संरक्षित होने की जानकारी भी हैंस ने इस मौके पर दी और बताया कि अबू धाबी में जिन फिल्मों की शूटिंग होती है, उनकी लागत की 30 फीसदी नकदी वापस आर्थिक सहायता के  रूप में वापस कर दी जाती है। उन्होंने जल्द ही अबू धाबी में दुनिया की सबसे बड़ी फिल्म सिटी की स्थापना की भी घोषणा की। इसका क्षेत्रफल 45 लाख वर्ग गज होगा।

हिंदी में किया स्वागत
अबू धाबी के पर्यटन विभाग के महानिदेशक मोहम्मद सालेह अल गीजरी ने कार्यक्रम में मौजूद सभी लोगों का स्वागत करते हुए हिंदी में कहा, ‘आईफा में आप सबका स्वागत है।’ कार्यक्रम में उपस्थित लोगों ने इस पर देर तक दिल खोलकर तालियां भी बजाईं। इसके बाद अपना संबोधन अंग्रेजी में जारी रखते हुए उन्होंने कहा कि संयुक्त अरब अमीरात भारतीय फिल्म सितारों का दूसरा घर बनता जा रहा है और खासतौर से हिंदी फिल्मों की यहां लगातार शूटिंग होने स ये रिश्ता और मजबूत हुआ है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

नवीनतम

केन्द्रीय मंत्री गडकरी से प्रदेश के उद्यानिकी राज्य मंत्री कुशवाह ने की भेंट

मध्य-प्रदेश केन्द्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी से प्रदेश के उद्यानिकी एवं खाद्य प्र-संस्करण राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) भारत सिंह कुशवाह ने नई...

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी : ” प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भारत की भूमिका ग्लोबल लीडर की बन गई है।”

उत्तराखंड, Dehradun ; मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने कहा है कि प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के नेतृत्व में भारत की भूमिका ग्लोबल लीडर की...

मंत्री सतपाल महाराज ने चौबट्टाखाल को फिर दिया 37 करोड़ की योजनाओं का तोहफा

जयहरीखाल (पौडी)। चौबट्टाखाल विधायक और प्रदेश के पंचायती राज, पर्यटन, लोक निर्माण, सिंचाई, ग्रामीण निर्माण, जलागम, धर्मस्व एवं संस्कृति मंत्री सतपाल महाराज ने एक...

मार्शल आर्ट सिर्फ एक खेल ही नहीं बल्कि सिखाता है आत्म सुरक्षा का गुर-रेखा आर्या

  रुड़की   प्रदेश की खेल मंत्री रेखा आर्या आज रुड़की स्थित कोर विश्वविद्यालय पहुंची जहां वह विश्वविद्यालय द्वारा आयोजित 23वीं SQAY "मार्शल आर्ट राष्ट्रीय स्तरीय...

मंत्री सतपाल महाराज ने हास्पिटल सहित अपने क्षेत्र को दी 100 करोड़ 70 लाख की योजनायें

एकेश्वर (पौडी)। प्रदेश के पंचायती राज, पर्यटन, लोक निर्माण, सिंचाई, ग्रामीण निर्माण, जलागम, धर्मस्व एवं संस्कृति मंत्री सतपाल महाराज ने अपने विधानसभा क्षेत्र एकेश्वर...

महाराज ने दिये “नंदा गौरा देवी कन्या धन योजना” आवेदन की तिथि बढ़ाने के निर्देश

देहरादून। प्रदेश के पंचायती राज मंत्री सतपाल महाराज ने महिला सशक्तिकरण एवं बाल विकास विभाग के सचिव हरिश्चंद्र सेमवाल को "नंदा गौरा देवी कन्या...

शिक्षा, अनुसंधान केंद्र और उद्योगों में साझेदारी समय की आवश्यकता : राज्यपाल मंगुभाई पटेल

उच्च शिक्षा की उत्कृष्टता, प्रसार और मूल्यांकन के प्रति सजग हों  -   राज्यपाल पटेल स्टेट लेवल एनालिसिस ऑफ एक्रिडेटेड हायर एजुकेशन इंस्टीट्यूशन के प्रतिवेदन का...

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने प्लेबेक सिंगर शान, नीति मोहन और म्यूजिक कंपोजर शिवमणि का स्वागत किया

मध्य-प्रदेश; मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सुप्रसिद्ध प्लेबेक सिंगर शान तथा नीति मोहन और म्यूजिक कंपोजर  शिवमणि का मुख्यमंत्री निवास परिसर स्थित समत्व भवन में...

कर्तव्य पथ पर पहली बार गणतंत्र दिवस परेड में उत्तराखंड की झांकी ने प्रथम स्थान पाकर बनाया इतिहास

 उत्तराखंड   Dehradun  गणतंत्र दिवस परेड को अभी तक राजपथ के नाम से जाना जाता था, किंतु इस वर्ष उसका नाम बदलकर कर्तव्य पथ रखा गया...

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने की स्टेच्यू ऑफ वननेस प्रोजेक्ट की समीक्षा

ओंकारेश्वर के मास्टर प्लान एवं इंदौर से ओंकारेश्वर की फोर लेन कनेक्टिविटी पर भी ध्यान दें आदि शंकराचार्य की प्रतिमा अगस्त 2023 तक स्थापित की...