Friday, February 3, 2023
Home उत्तराखंड खटीमा में सबसे अधिक हुआ मतदान तो सबसे कम काशीपुर

खटीमा में सबसे अधिक हुआ मतदान तो सबसे कम काशीपुर

लोकतंत्र की मजबूती व सरकार चुनने में खटीमा के लोग सबसे ज्यादा जागरूक दिखे। जिले की सभी विधानसभा सीटों में सबसे अधिक मतदान खटीमा में तो सबसे कम काशीपुर में हुआ है। जबकि काशीपुर तराई का सबसे पुराना शहर व विधानसभा है। हालांकि पिछले चुनाव की अपेक्षा इस बार कम मत पड़े हैं। कोविड के डर से लोग घर से कम निकले। पिछले विधानसभा चुनाव में जिले में 76.24 प्रतिशत मतदान हुआ था, जबकि इस बार 71.98 प्रतिशत मतदान हुआ है, जो पिछले चुनाव की अपेक्षा इस बार सवा चार प्रतिशत मतदान कम हुआ है।

जिले में सभी नौ विधानसभा सीटों पर 72 प्रत्याशी चुनाव मैदान में थे। सोमवार को हुए मतदान में 13 लाख तीन हजार 476 मतदाताओं में 941765 मत पड़े। जिन्होंने प्रत्याशियों की किस्मत को ईवीएम मशीन में कैद कर दिया है। जिले में 71.98 प्रतिशत मतदान हुआ। इस बार सबसे अधिक 78.57 प्रतिशत खटीमा में हुआ जो विधानसभा में सबसे अधिक हुआ है, जबकि काशीपुर में सिर्फ 64 प्रतिशत मतदान हुआ, जो सबसे कम है। पिछले वर्ष, 2017 में हुए चुनाव में खटीमा में 77.50 प्रतिशत व किच्छा में 72.70 प्रतिशत मतदान हुआ था, जबकि इस बार क्रमश: 78.57 व 73.88 प्रतिशत मतदान हुआ है। यानी इन दोनों विधानसभा में पिछले चुनाव की अपेक्षा करीब एक प्रतिशत मतदान अधिक हुआ है। जबकि पिछले चुनाव में सितारगंज में 81.25 प्रतिशत मतदान हुआ था, जबकि इस बार 71.07 प्रतिशत ही मतदान हो सका। यानी करीब 10 प्रतिशत मतदान कम हुआ है। जसपुर में छह, काशीपुर में पांच, बाजपुर में पांच, गदरपुर में पांच प्रतिशत मतदान पिछले चुनाव की अपेक्षा कम हुआ है। जबकि नानकमत्ता में 0.15 प्रतिशत मतदान कम हुआ है।

मतदान प्रतिशत में

जसपुर : 73.92

काशीपुर : 64.33

बाजपुर : 71.77

गदरपुर : 75.26

रुद्रपुर : 68.57

किच्छा : 71.07

सितारगंज : 78.57

नानकमत्ता : 73.88

खटीमा : 76.30

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

नवीनतम

केन्द्रीय मंत्री गडकरी से प्रदेश के उद्यानिकी राज्य मंत्री कुशवाह ने की भेंट

मध्य-प्रदेश केन्द्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी से प्रदेश के उद्यानिकी एवं खाद्य प्र-संस्करण राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) भारत सिंह कुशवाह ने नई...

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी : ” प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भारत की भूमिका ग्लोबल लीडर की बन गई है।”

उत्तराखंड, Dehradun ; मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने कहा है कि प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के नेतृत्व में भारत की भूमिका ग्लोबल लीडर की...

मंत्री सतपाल महाराज ने चौबट्टाखाल को फिर दिया 37 करोड़ की योजनाओं का तोहफा

जयहरीखाल (पौडी)। चौबट्टाखाल विधायक और प्रदेश के पंचायती राज, पर्यटन, लोक निर्माण, सिंचाई, ग्रामीण निर्माण, जलागम, धर्मस्व एवं संस्कृति मंत्री सतपाल महाराज ने एक...

मार्शल आर्ट सिर्फ एक खेल ही नहीं बल्कि सिखाता है आत्म सुरक्षा का गुर-रेखा आर्या

  रुड़की   प्रदेश की खेल मंत्री रेखा आर्या आज रुड़की स्थित कोर विश्वविद्यालय पहुंची जहां वह विश्वविद्यालय द्वारा आयोजित 23वीं SQAY "मार्शल आर्ट राष्ट्रीय स्तरीय...

मंत्री सतपाल महाराज ने हास्पिटल सहित अपने क्षेत्र को दी 100 करोड़ 70 लाख की योजनायें

एकेश्वर (पौडी)। प्रदेश के पंचायती राज, पर्यटन, लोक निर्माण, सिंचाई, ग्रामीण निर्माण, जलागम, धर्मस्व एवं संस्कृति मंत्री सतपाल महाराज ने अपने विधानसभा क्षेत्र एकेश्वर...

महाराज ने दिये “नंदा गौरा देवी कन्या धन योजना” आवेदन की तिथि बढ़ाने के निर्देश

देहरादून। प्रदेश के पंचायती राज मंत्री सतपाल महाराज ने महिला सशक्तिकरण एवं बाल विकास विभाग के सचिव हरिश्चंद्र सेमवाल को "नंदा गौरा देवी कन्या...

शिक्षा, अनुसंधान केंद्र और उद्योगों में साझेदारी समय की आवश्यकता : राज्यपाल मंगुभाई पटेल

उच्च शिक्षा की उत्कृष्टता, प्रसार और मूल्यांकन के प्रति सजग हों  -   राज्यपाल पटेल स्टेट लेवल एनालिसिस ऑफ एक्रिडेटेड हायर एजुकेशन इंस्टीट्यूशन के प्रतिवेदन का...

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने प्लेबेक सिंगर शान, नीति मोहन और म्यूजिक कंपोजर शिवमणि का स्वागत किया

मध्य-प्रदेश; मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सुप्रसिद्ध प्लेबेक सिंगर शान तथा नीति मोहन और म्यूजिक कंपोजर  शिवमणि का मुख्यमंत्री निवास परिसर स्थित समत्व भवन में...

कर्तव्य पथ पर पहली बार गणतंत्र दिवस परेड में उत्तराखंड की झांकी ने प्रथम स्थान पाकर बनाया इतिहास

 उत्तराखंड   Dehradun  गणतंत्र दिवस परेड को अभी तक राजपथ के नाम से जाना जाता था, किंतु इस वर्ष उसका नाम बदलकर कर्तव्य पथ रखा गया...

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने की स्टेच्यू ऑफ वननेस प्रोजेक्ट की समीक्षा

ओंकारेश्वर के मास्टर प्लान एवं इंदौर से ओंकारेश्वर की फोर लेन कनेक्टिविटी पर भी ध्यान दें आदि शंकराचार्य की प्रतिमा अगस्त 2023 तक स्थापित की...