Saturday, August 13, 2022
Home मध्यप्रदेश सरकारी कर्मचारी कर सकेंगे प्राइवेट नौकरी और बिजनेस, जानिए सरकार क्या उठाने...

सरकारी कर्मचारी कर सकेंगे प्राइवेट नौकरी और बिजनेस, जानिए सरकार क्या उठाने जा रही कदम

मध्य प्रदेश के कर्मचारियों के लिए अच्छी खबर है. अगर सरकार की योजना ठीक रही तो कर्मचारी प्राइवेट नौकरी भी कर पाएंगे और बिजनेस भी. शिवराज सरकार कुछ शर्तों के साथ फरलो स्कीम लागू कर सकती है. इससे उसके करोड़ों रुपए बचेंगे। 

भोपाल। 

वित्तीय घाटा कम करने के लिए मध्य प्रदेश की शिवराज सरकार सरकारी कर्मचारियों के लिए नई योजना ला सकती है. योजना ऐसी होगी जिसके तहत सरकारी कर्मचारी नौकरी में रहते हुए अपना खुद का बिजनेस या दूसरी प्राइवेट नौकरी भी कर सकेंगे। फरलो स्कीम नाम की इस योजना पर अभी विचार चल रहा है और अगर इसे अमल में लाया गया तो सरकारी कर्मचारियों को यह राहत मिल सकती है।

गौरतलब है कि, इसके कुछ नियम भी होंगे, जिन्हें कर्मचारियों को मानना होगा। फरलो स्कीम के तहत सरकारी कर्मचारी 5 साल तक अपने मूल काम से छुट्टी लेकर दूसरा काम कर सकेंगे. इनमें प्राइवेट नौकरी या बिजनेस जैसे काम शामिल हैं। इस दौरान सरकारी कर्मचारियों को 50% वेतन मिलता रहेगा और उनकी वरिष्ठता पर भी कोई फर्क नहीं पड़ेगा।

क्या होगा फायदा ? 

मौजूदा वक्त में मध्य प्रदेश सरकार सरकारी कर्मचारियों के वेतन भत्तों पर करीब 60000 करोड़ रुपए खर्च कर रही है।  अगर फरलो स्कीम को अमल में लाया जाता है तो सरकार को करीब 7000 करोड़ रुपए तक की बचत हो सकती है।  मौजूदा वक्त में मध्य प्रदेश सरकार की वित्तीय स्थिति नाजुक है और सरकार पर करीब ढाई लाख करोड़ का कर्ज हो चुका है। ऐसे में खर्चों में कटौती और बचत के रास्ते जनता पर बिना टैक्स का बोझ बढ़ाए लागू करना जरूरी हो गया है।

दिग्विजय सरकार लाई थी पहली बार

हालांकि ऐसा नहीं है कि फरलो स्कीम पहली बार मध्य प्रदेश में लागू करने की बात की जा रही हो. इससे पहले साल 2002 में तत्कालीन दिग्विजय सरकार ने इस स्कीम का फार्मूला लागू किया था. लेकिन, बाद में जब बीजेपी की सरकार आई तो फिर इस योजना को बंद कर दिया गया. लेकिन अब जबकि सरकार बचत के अलग-अलग रास्ते तलाश रही है तो इस योजना पर भी विचार किया जा रहा है.

किसानों के बिजली कनेक्शन आधार से जोड़ने की तैयारी

मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) की शिवराज सिंह चौहान सरकार बिजली घाटा कम करने की कोशिश में है. इस मामले में बनाए गए ग्रुप ऑफ मिनिस्टर्स ने सरकार को कुछ सुझाव दिए हैं, इसके तहत सब्सिडी खर्च को कम करने का सुझाव है. सुझाव है कि किसानों के बिजली कनेक्शन को आधार से जोड़ दिया जाए. एक किसान को सिर्फ एक ही सब्सिडी वाला कनेक्शन दिया जाए. ग्रुप ऑफ मिनिस्टर्स के इस सुझाव को अगर अमल में लाया जाता है तो सब्सिडी के करीब 17 सौ करोड़ रुपए बच सकते हैं.

सरकार को दी गई सलाह में कहा गया है कि एक किसान को केवल एक ही सब्सिडी वाला कनेक्शन दिया जाए और अगर उसके और कनेक्शन है तो उन पर सामान्य दर से ही बिजली बिल वसूला जाए. इस पर अभी सरकार ने अंतिम फैसला नहीं किया है लेकिन यह माना जा रहा है कि सब्सिडी का खर्च बचाने के लिए सरकार ग्रुप ऑफ मिनिस्टर के इस सुझाव पर अमल कर सकती है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

नवीनतम

विवेकानंद के प्रवास अद्वैत मायावती आश्रम में रुके मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह घामी, किया ध्यान।

  उत्तराखंड   चंपावत   मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी, शुक्रवार को चंपावत जिले के विभिन्न कार्यक्रमों में दिन भर की व्यस्तता के बाद लोहाघाट में वन आच्छादित...

मुख्यमंत्री चौहान ने इन्दौर में 6 लेन एफओबी ( फ्लाय ओवर ब्रिज ) का किया लोकार्पित

मध्य-प्रदेश, इंदौर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आज अपने इंदौर भ्रमण के दौरान इंदौर को यातायात सुधार के लिये बड़ी सौगात दी। मुख्यमंत्री ने शहर...

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने “हर घर तिरंगा“ अभियान के तहत जनपद चंपावत वर्चुअली प्रतिभाग किया गया।

उत्तराखंड, देहरादून ; प्रदेश के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी द्वारा नगर निकाय के “हर घर तिरंगा“ अभियान के तहत जनपद चंपावत वर्चुअली प्रतिभाग किया गया।  ...

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने पूर्व विधायक पूरन सिंह फर्त्याल की माता जी के निधन पर गहरा दुख व्यक्त किया

मध्य-प्रदेश; मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने लोहाघाट विधानसभा के पूर्व विधायक पूरन सिंह फर्त्याल की माता जी के निधन पर गहरा दुख व्यक्त किया है।...

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने चंपावत जिले के देवीधुरा स्थित मां वाराही धाम में लगने वाले प्रसिद्ध बग्वाल मेले में प्रतिभाग किया।

उत्तराखंड, चंपावत ; मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने शुक्रवार को चंपावत जिले के देवीधुरा स्थित मां वाराही धाम में लगने वाले प्रसिद्ध बग्वाल मेले में...

मुख्यमंत्री चौहान को इन्दौर में प्रेमनगर में बहनों ने बाँधी राखी और उतारी आरती

मध्य-प्रदेश, इंदौर ; मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आज इंदौर प्रवास के दौरान पल्लर नगर 60 फीट रोड स्थित प्रेम नगर पहुँचकर रहवासियों के साथ...

सेना में ड्यूटी के दौरान दिवंगत हुए विनीत चौड़ाकोटी के घर पहुंचे मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी

उत्तराखंड, चंपावत ; मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने शुक्रवार को चंपावत में भारतीय सेना में अपनी ड्यूटी के दौरान दिवंगत हुए विनीत चौड़ाकोटी के घर...

राष्ट्रभक्ति के भाव से हृदय को भर कर लें हर घर तिरंगा फहराने का संकल्प : मुख्यमंत्री चौहान

मध्य-प्रदेश : "इंदौर की हर गली, हर सड़क आज तिरंगामय थी, वृद्धों से लेकर बच्चों तक हर किसी के हाथ में तिरंगा था, हर घर...

फिल्मी स्टाइल में आयकर विभाग की छापेमारी, दुल्हन हम ले जाएंगे लिखी गाड़ी से पहुंचे और जब्त की 390 करोड़ की संपत्ति, 13 घंटों...

नासिक।  आयकर विभाग ने 1 से 8 अगस्त तक महाराष्ट्र में एक स्टील, कपड़ा व्यापारी और रियल एस्टेट डेवलपर के परिसरों पर छापेमारी की। अधिकारियों...

तेजस्वी का खुला चैलेंज, आओ सीबीआई, आओ ईडी, मेरे घर में ही दफ्तर खोल लो, भाजपा ने लोगों की मुस्कान छीन रखी थी, महागठबंधन...

पटना, बिहार बिहार में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की अगुवाई में दूसरी बार महागठबंधन सरकार के डिप्टी सीएम बने आरजेडी नेता तेजस्वी यादव बमबम हैं और...