Thursday, August 11, 2022
Home मध्यप्रदेश घर-घर जाकर होगी कोरोना मरीजों की पहचान: स्वास्थ्य मंत्री डॉ. चौधरी मध्यप्रदेश

घर-घर जाकर होगी कोरोना मरीजों की पहचान: स्वास्थ्य मंत्री डॉ. चौधरी मध्यप्रदेश

मध्यप्रदेश,भोपाल : 

24 अप्रैल से 9 मई तक चलेगा अभियान

स्वास्थ्य मंत्री डॉ. प्रभुराम चौधरी ने बताया कि 24 अप्रैल से 9 मई तक सभी जिलों के ग्रामीण क्षेत्रों में किल कोरोना अभियान-2 चलाया जाएगा। उन्होंने बताया कि अभियान के अंतर्गत समस्त जिलों के ग्रामीण क्षेत्रों में जिला कलेक्टर तथा मुख्य चिकित्सा अधिकारी द्वारा चयनित हॉट स्पॉट, जहाँ कोविड-19 पॉजिटिविटी दर में वृद्धि हो रही हो, में कोविड-19 की ट्रांसमिशन चेन को तोड़ने हेतु गठित दल द्वारा घर-घर जाकर बुखार के लक्षण वाले कोरोना के संभावित रोगियों की खोज की जाएगी।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने की अभियान में सहयोग की अपील

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि कोरोना संक्रमण की चेन को तोड़ने और घर-घर जाकर संभावित रोगियों की पहचान एवं उपचार की व्यवस्था सुनिश्चित करने के लिये किल कोरोना अभियान-2 प्रांरभ किया जा रहा है। इस अभियान में प्रशासन द्वारा गठित प्रशिक्षित दल गाँव-गाँव जाकर सर्वे करेगा। जिस विकासखंड में कोरोना के पॉजिटिव प्रकरण या सर्दी, खाँसी, जुकाम से प्रभावित अधिक व्यक्ति होंगे, वहाँ पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग, आँगनवाड़ी कार्यकर्ता और स्वास्थ्य विभाग का अमला प्रभावित लोगों को मेडिकल किट उपलब्ध करवायेगा। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने जन-प्रतिनिधियों, समाजसेवी संगठनों, कोरोना वॉलेंटियर्स और आम नागरिकों से अपील की है कि सभी मिलकर किल कोरोना अभियान-2 को सफल बनाये।

स्वास्थ्य मंत्री डॉ. चौधरी ने बताया कि किल कोरोना अभियान-2 के लिये प्रदेश के सभी जिलों में दलों का गठन कर प्रशिक्षित किया गया है। प्रशिक्षित दल विकासखंडवार अभियान को संचालित करेंगे। अभियान में शामिल स्वास्थ्य कार्यकर्ता तथा आशा कार्यकर्ताओं के पास पर्याप्त सर्वेलेंस के संसाधन ( Non Contact Thermometer, Pulse Oximeter, Triple Layer Mask, Face Shields, Gloves) एवं उपचार हेतु आवश्यक औषधियाँ भी उपलब्ध रहेंगी। अभियान में जन-प्रतिनिधियों, एनजीओ तथा सामाजिक कार्यकर्ताओं का सहयोग भी लिया जाएगा। उन्होंने कहा कि अभियान का उद्देश्य संभावित संक्रमित तथा कोविड-19 संक्रमित व्यक्तियों को समुदाय से पृथक रखकर संक्रमण की चेन को तोड़ना है।

स्वास्थ्य मंत्री डॉ. चौधरी द्वारा सभी जिला कलेक्टर्स एवं स्वास्थ्य विभाग के अमले को निर्देशित किया गया है कि अभियान का संचालन पूरी गंभीरता से किया जाए। पूरा प्रदेश-देश एवं संपूर्ण विश्व कोरोना महामारी से जूझ रहा है। संकट की इस घड़ी में मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान प्रदेश में कोरोना महामारी से निपटने के लिए जरूरी संसाधनों की उपलब्धता सुनिश्चित कर रहे हैं। डॉ. चौधरी ने कहा कि इसके बावजूद हम सबको सतर्कता बरतना बहुत जरूरी है। प्रत्येक व्यक्ति को अपनी नैतिक जवाबदारी के साथ कोरोना गाइडलाइन का पालन करते हुए दूसरों को भी उसका पालन करने की समझाइश देना होगी। स्वास्थ्य मंत्री डॉ. चौधरी ने बताया कि कोरोना संक्रमण को रोकने के लिये प्रदेश में आईआईटीटी की रणनीति के तहत Identification, Isolation, Testing तथा Treatment का पालन किया जा रहा है। इसके तहत मरीजों की शीघ्र पहचान कर त्वरित उपचार की व्यवस्था की जा रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

नवीनतम